तेरा नींद से भरी आँखों से मेरी तरफ़ देखना

तेरा नींदसे भारी आँखों सेमेरी तरफ़ देखना,धीरे धीरे से खिसक कर मेरी गोद में लेटना,इन पलों को संजोये जीता हूँ मैं मेरी परी।सुबह उठ कर वो चहचहा कर बातें करना ,स्कूल के लिए तेय्यार हो गाड़ी में बैठना,गाने सुनते हुए गुनगुना कर खिड़की से झाँकना ,बस इन पलों को संजोये जीता हूँ मैं मेरी परी।हर तकलीफ़ फीकी है,जब मिलता है तेरी नन्ही सी बाहोंमें सिमटना,हर ग़ुस्सा क़ाबू में होता है तबपड़ता … Continue reading तेरा नींद से भरी आँखों से मेरी तरफ़ देखना