किसी को समझ नहीं आती

चाहतों खत्म नहीं होती मुसीबतें यूं ही बढ़ जाती है, Mails खत्म नहीं होती data input PPT में बढ़ जाती है, Increment और bonus मिल नहीं पाते नौकरी खतरे में पड़ जाती है। कितनी भी मेहनत कर लो तुम growth किसी और को मिल ही जाती है, मेहनत करने वालों की कद्र नहीं होती जी … Continue reading किसी को समझ नहीं आती