कहाँ पर बोलना है

कहाँ पर बोलना हैऔर कहाँ पर बोल जाते हैं।जहाँ खामोश रहना हैवहाँ मुँह खोल जाते हैं।। कटा जब शीश सैनिक कातो हम खामोश रहते हैं।कटा एक सीन पिक्चर कातो सारे बोल जाते हैं।। नयी नस्लों के ये बच्चेजमाने भर की सुनते हैं।मगर माँ बाप कुछ बोलेतो बच्चे बोल जाते हैं।। बहुत ऊँची दुकानों मेंकटाते जेब … Continue reading कहाँ पर बोलना है

Advertisements