🙏🌹जय द्वारकाधीश🌹🙏

🦚🦚🦚🦚🦚सुदामा के चावलों मेंदखल न थी- प्रेम थामालिनी कुब्जा की कोईशक्ल न थी- प्रेम थाधन्ना की पूजा में कोईअक्ल न थी -प्रेम थामीरा के कीर्तन में कोईनकल न थी-प्रेम थाकौन से हीरे जड़े थेनरसी की खड़ताल मेंक्या बांधकर लाया थानिर्धन ,फ़टे हुए रुमाल मेंवन में जाकर भी खायाद्रौपदी के थाल मेंनित नित माखन लुटागोपियों के … Continue reading 🙏🌹जय द्वारकाधीश🌹🙏