जिंदगी by गुलज़ार साहब

-कभी तानों में कटेगी,कभी तारीफों में;ये जिंदगी है यारों,पल पल घटेगी !! पाने को कुछ नहीं,ले जाने को कुछ नहीं;फिर भी क्यों चिंता करते हो,इससे सिर्फ खूबसूरती घटेगी,ये जिंदगी है यारों पल-पल घटेगी! बार बार रफू करता रहता हूँ,जिन्दगी की जेब !!कम्बखत फिर भी,निकल जाते हैं…,खुशियों के कुछ लम्हें !! -ज़िन्दगी में सारा झगड़ा ही…ख़्वाहिशों … Continue reading जिंदगी by गुलज़ार साहब

मुझको uncle कहने वालों

😂😜 U N C L E 😜😂 उम्र 40 पार है लेकिनशक्ल हमारी 30 के जैसी।मुझको uncle कहने वालो,तुम्हारी ऐसी की तैसी।।। बेटी के कॉलेज गया तो,टीचर देख मुझे मुस्कुराई।।।बोली क्या मेनटेनड हो मिस्टर??पापा हो,पर लगते हो भाई।।। क्या बतलाऊँ उसने फिर,बातें की मुझ से कैसी कैसी।।मुझको uncle कहने वालों,तुम्हारी ऐसी की तैसी।।।। पडोसन बोली, … Continue reading मुझको uncle कहने वालों

40 पार की उम्र

उम्र 40 पार है लेकिनशक्ल हमारी 30 के जैसी।मुझको uncle कहने वालो,तुम्हारी ऐसी की तैसी।।। बेटे के कॉलेज गया तो,टीचर देख मुझे मुस्कुराई।।।बोली क्या मेनटेनड हो मिस्टर??पापा हो,पर लगते हो भाई।।। क्या बतलाऊँ उसने फिर,बातें की मुझ से कैसी कैसी।।मुझको uncle कहने वालों,तुम्हारी ऐसी की तैसी।।।। पडोसन बोली, सेकंड हैंड हो,लेकिन फ़्रेश के भाव बिकोगे।बस … Continue reading 40 पार की उम्र

कृष्ण का गांधारी को प्रत्युत्तर

क्रोधित, आवेशित गांधारी गिर पड़ी धरा पर श्रापित कर, अधचेतन, बिलख रही भू पर वह विगत काल को शोषित कर | थे कृष्ण सुन रहे श्राप- शब्द हँस रहे मृदुल, मन ही मन में, आ गए तुरत कुरुक्षेत्र मध्य हत योद्धाओं के कानन में | बोले गांधारी को हाथ जोड़ माते ! मैं श्राप ये … Continue reading कृष्ण का गांधारी को प्रत्युत्तर

🌷 पितरों को नमन🌷

वो कल थे तो आज हम हैंउनके ही तो अंश हम हैं.. जीवन मिला उन्हीं सेउनके कृतज्ञ हम हैं.. सदियों से चलती आयीश्रंखला की कड़ी हम हैं.. गुण धर्म उनके ही दियेउनके प्रतीक हम हैं.. रीत रिवाज़ उनके हैं दियेसंस्कारों में उनके हम हैं.. देखा नहीं सब पुरखों कोपर उनके ऋणी तो हम हैं.. पाया … Continue reading 🌷 पितरों को नमन🌷